Judai shayari in hindi | जुदाई शायरी

दोस्तो आज हम आपके लिए pyar mein judai shayari लेकर आए हैं। आप लोग इन्हें पढ़े और हमें कॉमेंट में बताए के कैसा लगा , हमें उम्मीद है अच्छा लगेगा क्यूं के बहुत ही जबरदस्त शायरी ले आए है खास आप के लिए ।

 

Judai shayari in hindi 4 line
Judai Shayari in hindi | जुदाई शायरी

 

दर्द तो तब जाना है

जब उसने तोड़ दिया है दिल को,

 

वफा की थी दिल ने शायद

 इस लिए छोड़ दिया हमको।

चाहा तो बहुत था उसे, इजहार न कर सके,गुजर गई उम्र किसी से प्यार न कर सके, मांगी भी तो उसने हमसे, अपनी जुदाई मांगी, और एक हम थे जिसे इनकार न कर सके ,
intezaar judai shayari

 

चाहा तो बहुत था उसे, इजहार न कर सके,

गुजर गई उम्र किसी से प्यार न कर सके,

मांगी भी तो उसने हमसे, अपनी जुदाई मांगी,

और एक हम थे जिसे इनकार न कर सके ,

 

कुछ दर्द ऐसे होते हैं,

जो बयां नहीं होते,

जब दिल में उतर जाते हैं,

तो आँखों से आंसू नहीं रोक पाते।

 

जब दर्द का एहसास होता है,
तो सारी दुनिया एक पल में भुल जाते हैं,

दर्द से जुड़े लम्हे भी अपने होते हैं,

और अपने दिल में छिपा कर रख लेते हैं।

 

दर्द की अंधेरी रातों में

जब तुम्हारी याद आती है,

तो दर्द भरी शायरी से

 दिल को हल्का करते लेते हैं।

judai shayari hindi

 

दर्द भरी शायरी से मेरे दिल से,

 एक नई आवाज़ उठती है,

क्योंकि हर शायरी की हर शब्द में

 एक दर्द का एहसास छिपा होता है।

 

 

जिस दिन दर्द से मोहब्बत हो जाएगी,
उस दिन तुम भी

 दर्द को मोहब्बत से देखोगे।

 

 

दर्द एक अजीब सा एहसास है,
जिंदगी में कुछ चीजें ऐसी होती हैं,

जो दर्द के साथ ही सीखा देता हैं,
और में हमें जीने की चाहत हो जाती है।

 

दर्द का एहसास हो तो कुछ ऐसा होता है, जैसे अंधेरे की चादर धक ली है, लेकिन अंदर से एक उम्मीद की  रोशनी जलती रहती है।
judai shayari

दर्द का एहसास हो तो कुछ ऐसा होता है,

जैसे अंधेरे की चादर धक ली है,

लेकिन अंदर से एक उम्मीद की

 रोशनी जलती रहती है।

 

 

दर्द तब तक रूकता नहीं है,
जब तक हम उसे जिंदगी नही समझते,

लेकिन जब हम उसे समझते हैं,
तब हमें वो एक नया जिंदगी देते है,

 

 

दर्द के साथ जीना भी सीखना होता है,
उन से भी अच्छा मोहब्बत करते है,

 

जब से गई बेवफा तू दर्द ने हमें संभाला है

और याद हमें भूलने का मौका ही नही देते।

 

 

दर्द का एक एहसास होता है,
जब कुछ हमारा नहीं रहता है,

दर्द हमें नया रास्ता दिखाता है,
हमें उन रास्ते में गुजरना नही आता।

dard e judai shayari in Hindi 

बुझी हुई चिरागों की तरह

बन गई है ये जिंदगानी,

कभी जो तुमसे रोशनियों की 

कोई कीमत न मांगी……

 

दर्द तब ख़त्म होता है,
जब हम उससे बचना सीखते हैं,

हमें वहां से गुजरना पड़ता है,

जहां याद को भी आने की इजाजत नहीं होता।

 

 

दर्द की गहराइयों से हमें एक चैन मिला है,
ज़िन्दगी के सफर में हमसफर मिला है,

भूल गए बेवफा तुम भले ही हमें ,
दिल अभी तक किसी से न गीला किया है।

 

 

दर्द का अहसास हमें तोहफे में मिला है,
वफा के बदले बेवफाई मिला है,

मोहब्बत की थी हमने जिस से ,

कत्ल उसी के हाथों हुआ है।

 

 

दिल में जलन उठी है मेरा अंगार की तरह,

आए खुदा क्यों मिलाया हमें उन से

दुश्मने तलवार की तरह,,,

 

जुदा हुए हो तुम जब से,

खफा हो गई मेरी ये जिंदगानी,

दूर होकर हमसे कर गई तू,

हमारी प्यार की आधा अधूरी कहानी,

 

तेरी जुदाई का एहसास है हमें,

गम जुदाई के दिन वो याद है हमें,

लौट आजा पल भर के लिए तु,

इंतज़ार में तेरे बैठा है ये दीवाने आज भी तुम्हारे,

 

 

Judai shayari in hindi images

दर्द का एहसास हो तो कुछ ऐसा होता है, जैसे अंधेरे की चादर धक ली है, लेकिन अंदर से एक उम्मीद की  रोशनी जलती रहती है।
Judai shayari in hindi images

वो मोहर्रम के 7 तारीख,

वो चांदनी रात के 11 बजे तुम्हारा मिलना,

 

बस इतना ही कहूंगा आए Nazrana,

भूल जाओ तुम हमें पर वो रात न भूलना,

 

वो चांदनी का बदन खुशबुयों से समाया है,

कितना अजीज है हमें पर पराया है,

 

हुई आंख नम पर ये दिल मुस्कुराया,

दर्द तो हुई पर तुम्हारी याद तो आया,

 

देना चाहा जो वफा की एक निशानियां

दुनिया हमें जीने को परेशान किया,

 

तेरी जुदाई भी क्या रंग लाई है,

दूर तुम हुए याद सिर्फ मुझे आई है,

 

 

dard bhari judai shayari in hindi

 

दिल तोड़ के वो हमें तन्हा छोड़ गए,

दफना के वो हमें जमीन पे रह गए,

हुई तकलीफ हमें कब्र के नीचे,

फूल उसने ऊपर से रख के चले गए।

 

तेरी जुदाई में भी उन लम्हों को याद करते है,

जब मोहब्बत थी तुम्हे हमसे ………

कितना हसीं वो पल था जब तुम आते थे,

दुनिया के खबर से हम कितना अंजान होते थे,

 

रातों में आए थे याद सपनो में खेलने,

आ जाओ तुम एक बार हमसे मिलने,

 

न जुदाई न तन्हाई का इंतजार रहेगा,

मेरे दिल में हमेशा तेरा ही प्यार रहेगा,

 

तेरी जुदाई में हमें दर्द भी इख्तियार है,

आ जाओ बेवफा मुझे तेरा इंतजार,

 

न उसने बताई न दुनिया ने बताया है

हमें क्यों मोहब्बत ने रुलाया है ?

 

आए खुदा हमसे क्या गुनाह हुई

चाहा था दिल ने जिसे वही क्यूं बेवफा हो गई,

 

 

खुशी मांगा था तुम से गम नही मांगी थी,

दिल मांगा था तुम से दिल्लगी नही मांगी थी,

 

कर दिया खून मेरी मोहब्बत का तुने,

जिंदगी मांगा था तुझ से मौत नही मांगी थी,

Judai shayari in hindi 4 line 

तुझ से मिलने को दिल बेकरार था, तुम्हारी वफाओं पे हमें नाज था, कर दिया तूने ए क्या आए बेवफा,  बन गई जिंदगी अब उधार का।
Judai shayari in hindi 4 line 

 

तुझ से मिलने को दिल बेकरार था,

तुम्हारी वफाओं पे हमें नाज था,

 

कर दिया तूने ए क्या आए बेवफा,

 बन गई जिंदगी अब उधार का।

 

मेरी मोहब्बत की क्या,

अजब रंग लाई है,

 

तड़पना हमें सीखा के,

 खुशियां वो साथ ले गई है,

 

दिल मेरा जल उठा है ऐसे

 जिसका धुवां नही होता,

 

 देखी जो बेबसी मेरी सूरज को भी,

अपने गर्मियों पे नाज नही होता,

 

 

और पढ़े 

emontional shayari

sad poerty in hindi

Judai Shayari in hindi को आप direct किसी भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म में भेज सकते है। फीडबैक अपना जरूर दें और कमेंट में बताए हमारी अगर कुछ कमियां रहे तो टेक हम उसे update कर सके।।।

5/5 - (1 vote)

Leave a Comment